Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

दहशत: बेगूसराय की डाक अधीक्षक अर्चना कुमारी को स्पीडपोस्ट से मिली जान से मारने की धमकी

  • जांच की मांग

दहशत

🎯नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कर जांच में जुटी बेगूसराय पुलिस

🎯नालंदा के सांसद का फर्जी लेटर पैड बनाकर सुर्खियों में रहा था इस मामले का नामजद आरोपी

दहशत
समाचार विचार/बेगूसराय: जिले में बदमाशों के आतंक से दहशत का यह आलम है कि अब वे स्पीड पोस्ट के माध्यम से जान मारने की धमकी देने लगे हैं। ताजा मामला बेगूसराय की डाक अधीक्षक अर्चना कुमारी से जुड़ा है, जिन्हें बेखौफ बदमाशों ने स्पीडपोस्ट के माध्यम से जान से मारने की धमकी देकर सनसनी फैला दी है। हालांकि, पीड़ित महिला अधिकारी के द्वारा नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कर तीन व्यक्तियों को नामजद अभियुक्त बनाया गया है। प्राथमिकी दर्ज करने के बाद बेगूसराय पुलिस मामले की जांच में जुट गई है और नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी तेज कर दी है।

महिला अधिकारी को स्पीडपोस्ट से मिली जान से मारने की धमकी
बेगूसराय शहर के हर्रख मोहल्ले के अधिवक्ता निरंजन कुमार की पत्नी अर्चना कुमारी वर्ष 2023 से नवादा डाक प्रमंडल में डाक अधीक्षक के पद पर कार्यरत हैं और वर्तमान में बेगूसराय डाक प्रमंडल का कार्यभार भी संभाल रही हैं। 27 मई को को स्पीड पोस्ट से उन्हें जान से मरने की धमकी भरा पत्र प्राप्त हुआ। थाना को दिए आवेदन में उन्होंने बताया है कि स्पीड पोस्ट में उनके सहकर्मी सहायक डाक अधीक्षक शंभू कुमार सिंह को जानबूझकर मेरे लिए 2 लाख की सुपारी देने की बात लिखी गई है, जो सरासर झूठ, निराधार व बेबुनियाद है। सच तो यह है कि नवादा डाक प्रमंडल के लेखापाल रामकृष्ण प्रसाद, पिता रामचंद्र प्रसाद ग्राम मदौनी, बिजली बोर्ड ऑफिस के पीछे थाना व जिला नवादा, कुमार प्रशांत निलंबित डाक सहायक वारिसलीगंज नवादा पिता स्व० शशि भूषण प्रसाद सिंह उर्फ त्रिवेणी सिंह, मोहल्ला राजेंद्र नगर नवादा, स्थाई पता ग्राम ठेरा वारिसलीगंज जिला नवादा एवं काजल कुमारी एमटीएस कर्मचारी हाक प्रमंडल कार्यालय नवादा, यह सभी डाक कर्मचारी मेरे अधीन कार्यरत हैं। यह सभी अपने कार्यालय का सरकारी काम करते नहीं हैं और कार्यालय से बाहर घूमते रहते हैं। जब मैं उन्हें समय पर कार्य संपन्न करने को कहती हूं तभी ये सभी मुझे धमकाते रहते हैं और साफ़ साफ़ कार्य करने से इंकार कर देते हैं और यह लोग कहते हैं कि आप बाहरी हैं तो आराम से रहिए और सरकारी काम में बाधा उत्पन्न करते हैं। अर्चना कुमारी ने बताया कि मैं महिला अधिकारी हूं एवं स्थानीय नहीं हूं, जिसका नजायज फायदा यह लोग उठाना चाहते हैं। हद तो तब हो गई जब यह तीनों रामकृष्ण प्रसाद, कुमार प्रशांत एवं काजल कुमारी दूसरे के नाम पर कूट रचित कर षडयंत्र रच कर मुझे जान से मारने की धमकी दी हैं।

नालंदा के सांसद का फर्जी लेटर पैड बनाकर सुर्खियों में रहा था इस मामले का नामजद आरोपी
विदित हो कि इस मामले का आरोपी कुमार प्रशांत इस तरह की साजिश में पहले भी लिप्त रहा है। इसने नालंदा के सांसद कौशलेंद्र कुमार का फर्जी लेटर पैड बनाकर एवं सुधीर कुमार पटेल का फर्जी ईमेल अकाउंट बनाकर एक पत्र विभाग को भी भेजा था। इसी संदर्भ में सुधीर कुमार पटेल जिला मंत्री भारतीय मजदूर संघ कलाली गली नालंदा बस स्टैंड बिहार शरीफ़ ने साइबर थाना नालंदा में कुमार प्रशांत के नाम पर एक FIR SDE 37/24 भी दर्ज कराया है। इस संबंध में बेगूसराय नगर थानाध्यक्ष ने बताया कि इस मामले की प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

Begusarai Locals

🎯साइंटिफिक सेशन: बेगूसराय में मेडीपार्क हॉस्पिटल के विशेषज्ञ चिकित्सकों का हुआ भव्य स्वागत

🎯बलिया में बाइक सवार बदमाशों ने दुकानदार पर की फायरिंग

Leave a Comment

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव टीवी

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

Quick Link

© 2023 Reserved | Designed by Best News Portal Development Company - Traffic Tail