Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

हेल्दी टिप्स: बिना रसायन के आप भी घर में पका सकते हैं आम

  • इसे पहचान लीजिए
  • अखिल भारतीय फल अनुसंधान परियोजना के प्रोफेसर (डॉ.) एसके सिंह ने बताए कारगर टिप्स

  • खतरनाक रसायनों की जगह इन उपायों से स्वाद और सेहत रहेगा बरकरार

हेल्दी टिप्स
समाचार विचार/पटना/बेगूसराय: अखिल भारतीय फल अनुसंधान परियोजना के प्रोफेसर (डॉ.) एसके सिंह ने घर में ही आम को पकाने के हेल्दी टिप्स बताए हैं। डॉ. सिंह विभागाध्यक्ष,पोस्ट ग्रेजुएट डिपार्टमेंट ऑफ प्लांट पैथोलॉजी एवं नेमेटोलॉजी, प्रधान अन्वेषक, अखिल भारतीय फल अनुसंधान परियोजना, डॉ राजेंद्र प्रसाद सेंट्रल एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, पूसा में कार्यरत हैं।उन्होंने बताया कि घर पर आम पकाना एक पुरानी परंपरा है, जो आपको इस उष्णकटिबंधीय फल की मीठी, रसीली अच्छाई का स्वाद चखने का मौका देती है। चाहे आपने उन्हें पेड़ से ताजा तोड़ा हो या बाजार से खरीदा हो, आमों को पूरी तरह से पकाने के लिए आप कई घरेलू तरीके अपना सकते हैं। “फलों के राजा” के रूप में जाने जाने वाले आम अपने भरपूर स्वाद, जीवंत रंग और अनूठी सुगंध के लिए प्रिय हैं। हालाँकि, पेड़ पर पूरी तरह से पकने वाले कुछ फलों के विपरीत, आमों को अपनी पूरी क्षमता तक पहुँचने के लिए अक्सर थोड़ी मदद की ज़रूरत होती है। घर पर आम पकाने से न केवल इष्टतम स्वाद और बनावट सुनिश्चित होती है बल्कि आप उन्हें तब भी खा सकते हैं जब वे आपके स्वाद के लिए बिल्कुल सही हों।
सबसे महत्वपूर्ण है सही आम चुनने की प्रक्रिया
पकाने की प्रक्रिया में उतरने से पहले, सही आम चुनना महत्वपूर्ण है। ऐसे फलों की तलाश करें जो सख्त हों लेकिन दबाने पर हल्के दबाव में थोड़े से झुक जाएँ।  दाग, खरोंच या बहुत नरम धब्बे वाले आमों से बचें, क्योंकि ये खराब होने का संकेत हो सकते हैं। आमों की विभिन्न किस्मों के पकने का समय अलग-अलग होता है, इसलिए अपने आमों का चयन करते समय इस पर विचार करें।

सरल प्रक्रिया है कमरे के तापमान पर आम को पकाना
आमों को पकाने का सबसे सरल और सबसे आम तरीका उन्हें कमरे के तापमान पर रखना है। आमों को एक परत में एक हवादार जगह पर सीधे धूप से दूर रखें। उन्हें धीरे-धीरे निचोड़कर नियमित रूप से पकने की जाँच करें। पके हुए आमों को दबाव में थोड़ा झुकना चाहिए और तने के सिरे पर एक सुगंधित सुगंध छोड़नी चाहिए। आमों के शुरुआती पकने के आधार पर, इस प्रक्रिया में कुछ दिनों से लेकर एक सप्ताह तक का समय लग सकता है।
एक लोकप्रिय और प्रभावी तकनीक है पेपर बैग विधि
पकने की प्रक्रिया को तेज करने के लिए पेपर बैग विधि एक लोकप्रिय तकनीक है। यह विधि एथिलीन गैस को फँसाकर काम करती है, जो केले और सेब जैसे फलों द्वारा स्वाभाविक रूप से उत्पन्न होती है और पकने में सहायता करती है। इस विधि का उपयोग करने के लिए, आमों को एक पके हुए केले,पपीता या सेब के साथ एक पेपर बैग में रखें। बैग के ऊपरी हिस्से को बंद करके बंद करें और इसे कमरे के तापमान पर छोड़ दें।  आमों के पकने की जांच रोजाना करें। इस विधि से पकने में आम तौर पर कुछ दिन लगते हैं।

चावल विधि भी है बहुत लोकप्रिय और प्रचलित
आमों को जल्दी पकाने का एक और कारगर तरीका चावल विधि है। इस विधि में कच्चे चावल के कंटेनर में आमों को दबाना शामिल है, जो एक इन्सुलेटर के रूप में कार्य करता है, गर्मी को रोकता है और पकने को बढ़ावा देता है। इस विधि का उपयोग करने के लिए, आमों को कच्चे चावल से भरे कंटेनर में रखें, सुनिश्चित करें कि वे पूरी तरह से ढके हुए हैं। कंटेनर को किसी गर्म, सूखी जगह पर रखें। पकने के लिए आमों की नियमित रूप से जाँच करें, क्योंकि इस विधि का उपयोग करने से वे अपेक्षा से अधिक तेज़ी से पकते हैं।
अपनाया जा सकता है केला, पपीता या सेब विधि
पेपर बैग विधि की तरह, केला,पपीता या सेव विधि में पकने की प्रक्रिया को तेज़ करने के लिए पके केला,पपीता एवं सेव का उपयोग किया जाता है। इस विधि का उपयोग करने के लिए, आमों को एक पके हुए केला,पपीता या सेव के साथ एक पेपर बैग में रखें और ऊपर से बंद करके मोड़ दें। पेज हुए केला,पपीता या सेव से उत्पन्न एथिलीन गैस पकने की प्रक्रिया को तेज़ कर देगी। पकने के लिए आमों की रोजाना जाँच करें, क्योंकि इस विधि का उपयोग करने से वे जल्दी पकते हैं।

हेल्दी टिप्स

सबसे आसान और कारगर है गर्म पानी विधि
गर्म पानी विधि आमों को पकाने का एक तेज़ और कारगर तरीका है। इस विधि में पकने की प्रक्रिया को तेज़ करने के लिए आमों को गर्म पानी (48 डिग्री सेल्सियस)में डुबोया जाता है। एक कटोरी या सिंक में गर्म पानी भरें और आमों को 10-15 मिनट के लिए उसमें डुबो दें। आमों को पानी से निकालें और उसे सूती कपड़े से पोंछ कर सुखाएँ। उन्हें कमरे के तापमान पर पकने के लिए अच्छी तरह हवादार जगह पर रखें। यह विधि आमों को जल्दी पकने में मदद करती है, लेकिन उन्हें ज़्यादा पकने से रोकने के लिए उन पर बारीकी से नज़र रखना ज़रूरी है।
आमों को पकाने के लिए विशेषज्ञ ने दिए हैं ये सुझाव
धैर्य: हालाँकि पकने की प्रक्रिया को तेज़ करना आकर्षक लगता है, लेकिन आमों को धीरे-धीरे पकाना सबसे अच्छा होता है ताकि उनका पूरा स्वाद विकसित हो सके।
भंडारण: पकने के बाद, पकने की प्रक्रिया को धीमा करने के लिए आमों को कई दिनों तक रेफ्रिजरेटर में रखा जा सकता है। सबसे अच्छे स्वाद के लिए खाने से पहले उन्हें वापस कमरे के तापमान पर लाएँ।
🎯सलाह: हर आयुवर्ग के लोगों को धूल और धुएं से बचने की है जरूरत
गुणवत्ता: सर्वोत्तम परिणामों के लिए उच्च गुणवत्ता वाले आम चुनें। ऐसी किस्मों की तलाश करें जो अपने स्वाद और मिठास के लिए जानी जाती हैं।
किस्में: अपने पसंदीदा आमों को खोजने के लिए विभिन्न किस्मों के साथ प्रयोग करें। प्रत्येक किस्म का अपना अनूठा स्वाद और पकने की विशेषताएँ होती हैं।
 सारांश
घर पर आमों को पकाना एक बहुत अच्छा अनुभव है जो आपको उनके चरम स्वाद का आनंद लेने की अनुमति देता है। चाहे आप उन्हें कमरे के तापमान पर पकाना पसंद करते हों, पेपर बैग विधि का उपयोग करें, या अन्य तकनीकों को आज़माएँ, मुख्य बात यह है कि पकने की प्रक्रिया के प्रति धैर्य और चौकस रहें। सही तरीकों और आमों के उचित चयन के साथ, आप जब भी चाहें स्वादिष्ट, पके आमों का आनंद ले सकते हैं। अपने लिए सबसे अच्छा काम करने वाले तरीके को खोजने के लिए विभिन्न तरीकों के साथ प्रयोग करें और अपने परिश्रम के फल का आनंद लें।

Begusarai Locals

🎯बेगूसराय में अब सुबह के छह बजे से संचालित होंगे सभी स्कूल

Leave a Comment

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव टीवी

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

Quick Link

© 2023 Reserved | Designed by Best News Portal Development Company - Traffic Tail