Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

दुस्साहस: साहेबपुरकमाल में शराब माफिया और पुलिस के बीच ताबड़तोड़ फायरिंग से दहला इलाका

  • इसे पहचान लीजिए
  • सीमांचल ट्रेन से शराब की बड़ी खेप ले जाने की सूचना पर पहुंची थी खगड़िया आरपीएफ और साहेबपुरकमाल पुलिस

  • पुलिस के ज्वाइंट ऑपरेशन में बरामद की गई शराब की बड़ी खेप

दुस्साहस
समाचार विचार/साहेबपुरकमाल/बेगूसराय: बेखौफ शराब माफियाओं ने दुस्साहस का परिचय देते हुए पुलिस को खुली चुनौती दे डाली है। शराबबंदी वाले बिहार में भले ही सरकार और उसका प्रशासनिक तंत्र शराबबंदी कानून को सफल बताकर अपनी पीठ थपथपाने में गौरवान्वित महसूस करने का दंभ भर रहा हो, लेकिन जमीनी सच्चाई इसके ठीक विपरीत है। शराब के अवैध कारोबारी अब इतने बेखौफ और दुस्साहसी हो गए हैं कि उनके भीतर पुलिस का कोई खौफ नहीं रह गया है। हालांकि साहेबपुरकमाल-उमेशनगर रेलखंड के बीच बीती रात उस समय शराब माफिया के मंसूबे पर पानी फिर गया, जब खगड़िया आरपीएफ इंस्पेक्टर अरविंद कुमार राम, बरौनी जीआरपी इंस्पेक्टर मनीष कुमार और साहेबपुरकमाल थानाध्यक्ष दीपक कुमार ने डटकर जवाबी फायरिंग करते हुए शराब माफिया को शराब की बड़ी खेप छोड़कर भागने पर मजबूर कर दिया। मौके से पुलिस ने 590 बोतल विदेशी शराब जब्त करने में सफलता पाई है। इस बीच दोनों तरफ से कई चक्र गोली भी चली, लेकिन किसी के हताहत होने की सूचना प्राप्त नहीं हुई है।

सीमांचल ट्रेन से शराब की बड़ी खेप ले जाने की सूचना पर पहुंची थी खगड़िया आरपीएफ और साहेबपुरकमाल पुलिस
घटना के संबंध में बताया जाता है कि डाउन 12488 आनंदविहार-जोगबनी सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन की चेनपुलिंग कर शराब माफियाओं ने शराब की बड़ी खेप बीच रास्ते में ही उतार लिया है। इसकी गुप्त सूचना खगड़िया आरपीएफ इंस्पेक्टर अरविंद कुमार राम को पहले ही मिल चुकी थी। आरपीएफ इंस्पेक्टर ने तत्काल इसकी सूचना साहेबपुरकमाल थानाध्यक्ष दीपक कुमार को दी और उन्होंने आरक्षी विक्रम कुमार आजाद, सज्जन कुमार, जीआरपी थानाध्यक्ष नरेश कमुार, आरक्षी चंदन कुमार के साथ अप नॉर्थ इस्ट ट्रेन से साहेबपुरकमाल की ओर रवाना हो गए। वापसी में बेगूसराय में उक्त डाउन सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन में सवार हो गए और बोगी में सघन जांच शुरू कर दी। इसी क्रम में पुलिसकर्मियों ने देखा कि साहेबपुरकमाल और उमेशनगर स्टेशन के बीच एक जेनरल कोच से तीन चार व्यक्ति बैग लेकर उतर रहे थे। जब पुलिसकर्मियों ने रात के घने अंधेरे में उन्हें रुकने को कहा तो वे मौके से फरार होने में सफल रहे। इस बीच ट्रेन खुल गई लेकिन आरपीएफ की टीम ने बैग की जांच मे 180 एमएल की 590 बोतल विदेशी शराब को बरामद कर लिया, जो 106.20 लीटर थी।

बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कर रही है ताबड़तोड़ छापेमारी
पुलिस उक्त शराब की जांच कर ही रही थी कि अचानक अंधेरे रात में पांच छह की संख्या में शराब तस्कर अवैध हथियार लहराते हुए पुलिस पर फायरिंग करना शुरू कर दिया। जिस पर जवाबी कार्रवाई करते हुए आरपीएफ इंस्पेक्टर अरविंद कुमार राम ने अपने पिस्टल से तीन राउंड फायर किया। करीब आधे घंटे तक तक दोनों तरफ से फायरिंग होती रही लेकिन रात के अंधेरे का फायदा उठाकर सभी बदमाश फरार हो गए। इंस्पेक्टर मनीष कुमार, आरपीएफ इंस्पेक्टर अरविंद राम और साहेबपुरकमाल थानाध्यक्ष दीपक कुमार ने बताया कि बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ छापेमारी की जा रही है।

दुस्साहस

Begusarai Locals

🎯चौंकिए मत: खुद की इंश्योरेंस फेल जिप्सी से पब्लिक के वाहन की चेकिंग कर रही है बेगूसराय पुलिस

🎯आखिर भूमिहारों के गढ़ बेगूसराय में गिरिराज सिंह से क्यों नाराज हैं लोग

 

Leave a Comment

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव टीवी

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

Quick Link

© 2023 Reserved | Designed by Best News Portal Development Company - Traffic Tail