Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

दरख्तों के रखवाले: बेगूसराय में फोरलेन निर्माण के दौरान एक वर्ष में लगाए गए 28443 पौधे

दरख्तों के रखवाले: बेगूसराय में फोरलेन निर्माण के दौरान एक वर्ष में लगाए गए 28443 पौधे

  • वन प्रमंडल पदाधिकारी ने जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को प्रतिवेदित कर दी जानकारी

  • माया कौशल्या फाउंडेशन के रौशन कुमार को समय समय पर सर्वाइवल ऑफ ट्री का प्रतिवेदन उपलब्ध कराती रहेगी विभाग

दरख्तों के रखवाले

समाचार विचार/बेगूसराय: मौजूदा माहौल में समाज में रहने वाले दरख्तों के रखवाले लोगों की कद्र करना बहुत जरूरी है। तीव्र गति से बढ़ती जा रही जनसंख्या और उसी अनुपात में आवश्यकताओं की पूर्ति करने हेतु मौजूद प्राकृतिक संसाधनों का अंधाधुंध दोहन ही प्रकृति के साथ की जा रही ज्यादती की असल वजह है। योजनाओं के नाम पर प्राकृतिक संसाधनों को सहेजने के बजाए उसे लूटने, रौंदने और बरबाद करने की प्रवृति के विरुद्ध अगर समाज के जागरूक लोग आगे नहीं आएंगे तो स्थिति अकल्पनीय रूप से भयावह होती चली जाएगी। इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि बिगड़ते पर्यावरण और बढ़ते प्रदूषण को रोकने की दिशा में सामूहिक चिंतन और हर एक की चिंता से ही समाज में जागरूकता आएगी। इस चिंताजनक हालात में वायु प्रदूषण के मामले में राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा में आए बेगूसराय जिले की सामाजिक संस्था माया कौशल्या फाउंडेशन के सर्वेसर्वा रौशन कुमार की पहल की सराहना की जानी चाहिए। उन्होंने बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम के तहत बेगूसराय में फोरलेन के निर्माण के दौरान काटे गए वृक्षों की जगह नए पौधे को लगाए जाने और अन्य वांछित जानकारी प्राप्त की है।
वर्ष 2015 में ही काटे गए थे सिमरिया से खगड़िया तक एनएच के किनारे लगे पेड़ पौधे
परिवादी ने परिवाद का संक्षिप्त विवरण देते हुए बताया कि एनएच 31 के फोरलेन बनने के दौरान सड़क के दोनों किनारे हजारों पेड़ पौधों को 2015 में ही काटा गया था किंतु आज तक उस स्थान पर एक भी पेड़ पौधा सही ढंग से नहीं लगाया गया है। फोरलेन निर्माण का कार्य पूर्ण होने के कारण सड़क पर चलने वाले वाहनों से टॉल टैक्स की वसूली भी शुरू कर दी गई। उन्होंने परिवाद के माध्यम से यह जानकारी उपलब्ध कराने का अनुरोध किया कि देश के सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में शुमार बेगूसराय जिले में इस दौरान कितने पेड़ पौधों को लगाया गया?

वन प्रमंडल पदाधिकारी ने जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को प्रतिवेदित कर दी जानकारी
प्राप्त परिवाद के आलोक में प्राधिकार वन प्रमंडल पदाधिकारी, बेगूसराय को अपना पक्ष रखने के लिए सूचना निर्गत की गई। सुनवाई के दौरान उक्त मामले के लोक प्राधिकार उपस्थित हुए और उनके द्वारा प्रतिवेदित किया गया कि एनएच 31 के फोरलेन बनने के दौरान काटे गए वृक्ष के बदले नए पेड़ लगाने हेतु खाली जगहों का स्थल निरीक्षण संयुक्त रूप से एनएचएआई और वन प्रमंडल पदाधिकारी के द्वारा किया गया। उक्त निरीक्षण के आलोक में वित्तीय वर्ष 2022-2023 में काटे गए वृक्षों के बदले 28443 पौधों का रोपण किया गया है और संपोषण का कार्य किया जा रहा है।
माया कौशल्या फाउंडेशन के रौशन कुमार को समय समय पर सर्वाइवल ऑफ ट्री का प्रतिवेदन उपलब्ध कराती रहेगी विभाग
लोक प्राधिकार ने वन प्रमंडल को निर्देश दिया है कि जिले के अन्य स्थान, जहां पेड़ पौधे नहीं लगाए गए हैं, वहां स्थल चिन्हित कर पेड़ पौधे लगाए जाएं एवं माया कौशल्या फाउंडेशन के रौशन कुमार को समय समय पर सर्वाइवल ऑफ ट्री का प्रतिवेदन भी उपलब्ध कराएं। साथ ही इस संबंध में अगर उनके द्वारा जानकारी मांगी जाती है तो भविष्य में भी उन्हें विधिवत जानकारी उपलब्ध कराई जाए।

दरख्तों के रखवाले

🎯यही सियासत है: बेगूसराय में नंदलाल राय के बाद अब सुरेंद्र पासवान को बेदखल करने की तैयारी
🎯चलिए, आज आपको कराते हैं वंदे भारत एक्सप्रेस की सैर

 

Leave a Comment

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव टीवी

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

Quick Link

© 2023 Reserved | Designed by Best News Portal Development Company - Traffic Tail